X Close
X
9826003456

वास्तु शास्त्र के अनुसार विदेश यात्रा या यात्रा का योग किस कोण से देखते हैं…….?


Gadwal:

वास्तु शास्त्र के अनुसार विदेश यात्रा या यात्रा का योग किस कोण से देखते हैं…….?

**ज्योतिष शास्त्र के अनुसार विदेश यात्रा या यात्रा का योग किस घर से देखते हैं,और कौन से ग्रह विदेश यात्रा में मदद करता है …….???

**वास्तुशास्त्र के अनुसार वायव्य कोण का तत्व वायु है ,वायु की प्रवित्ति चलायमान है

**वायु अस्थिरता का प्रतिक होता है

**वायव्य कोण का स्वामी चन्द्रमा होता है ,जो की सबसे तेज चलते हुवे एक घर से दुसरे घर में प्रवेश करता है [३० दिनों में १२ राशी ]

**इसीलिए वायव्य कोण से यात्रा का अनुमान लगाते हैं

**इसीलिए ऐसे जातक जिनको भ्रमण करने से जीवकोपार्जन होता है —जैसे मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव ,वास्तु सलाहकार को वायव्य कोण में सोने की सलाह दी जाती है

**इसलिए जिनको विदेश यात्रा में जाना है उनको अपने घर के वायव्य कोण को विकसित करना चाहिए

 

Pt Deonarayan Sharma
Vaastu consultant
Mob +91 94252 07282

The post वास्तु शास्त्र के अनुसार विदेश यात्रा या यात्रा का योग किस कोण से देखते हैं…….? appeared first on www.prompttimes.com.

Prompt Times